Fri. Jul 1st, 2022

Manohar Parrikar Biography in Hindi – भारतीय राजनीति के मशहूर नेता मनोहर पर्रिकर का जन्म 13 December 1955 को मापुसा Goa, Portuguese India (Now India) में हुआ था, यह राजनीति की दुनिया के बेदाग छवि वाले नेता थे। पर्रिकर के पिता का नाम गोपालकृष्ण पर्रिकर है और माता का नाम राधाबाई पर्रिकर है इनके दो भाई भी है जिनका नाम अवधूत पर्रिकर और सुरेश पर्रिकर है बहन के बारे में ज्ञात नहीं है।

मनोहर पर्रिकर ने राजनीति की दुनिया में कई सारे काम किये वह एक साधारण नेता की तरह रहते थे कोई आम नागरिक भी उनसे बहुत आसानी से मिल लेता था वो सबकी बातों को ध्यान से सुनते थे और लोगों की काफी हेल्प भी करते थे पर्रिकर ऐसे नेता थे जिन्होंने गोवा में बहुत दिनों तक मुख़्यमंत्री पद पर काम किया बाद में वो देश के रक्षामंत्री भी बने वर्ष २०१९ में बीमारी के कारण उनका निधन हो गया। मृत्यु के समय पर्रिकर की उम्र 63 वर्ष थी।

Manohar Parrikar Biography in Hindi – संछिप्त परिचय

Manohar Parrikar Biography in Hindi

  • नाम – मनोहर पर्रिकर
  • उपनाम – IITian Minister
  • जन्म – 13 December 1955
  • जन्म स्थान – Mapuca Goa
  • प्रोफेशन – Politician
  • पिता का नाम – गोपालकृष्ण पर्रिकर
  • माता का नाम – राधाबाई पर्रिकर
  • पत्नी का नाम – Late. Medha Parrikar (died of cancer in 1999)
  • संतान – Abhijit Parrikar, Utpal Parrikar
  • Marital Status – Widower
  • पता – 104, South Block, New Delhi
  • सम्पति – 3.5Cr. (2014)
  • पसंदीदा नेता – नरेंद्र मोदी
  • मृत्यु – 17 March 2019 (कारण Pancreatic Cancer)
  • मृत्यु का स्थान – बेटे के घर पणजी, Goa में

वर्ष 1994 में मनोहर पर्रिकर ने पहली बार Member of Legislative Assembly of Goa का चुनाव जीता तब से 2019 तक पर्रिकर राजनीति में सक्रिय रहे। लगभग 25 वर्षों से ज्यादा का राजनितिक कैरियर रहा पर्रिकर जी का वो बहुत अच्छे नेता थे आज भी लोग उनके कामों को याद करते है।

मनोहर पर्रिकर की शिक्षा –

पर्रिकर की शिक्षा के बारे में कहें तो यह बहुत पढ़े लिखे ब्यक्ति थे इनकी प्रांरभिक शिक्षा Loyola High School, मार्गो में हुई उसके बाद इन्होने New Goa High School, Mapusa, Goa Poona Board (सरकारी स्कूल) से पढाई की, बाद में यह St. Xaviers College, Mapusa, Goa Recognized by Bombay University से आगे की पढाई की। बाद में पर्रिकर ने Indian Institute of Technology, Bombay (IIT Mumbai) से IIT की पढाई भी की, इनकी योग्यता के बारे में कहें तो मनोहर पर्रिकर B.Tech in Metallurgical Engineering की पढाई किये थे। इनको भारत का IITian Minister भी कहा जाता है। यह भारत के पुराने IITian में से एक थे।

मनोहर पर्रिकर का राजनितिक कैरियर –

  • राजनीति की दुनिया में आने से पहले मनोहर पर्रिकर Rashtriya Swayamsevak Sangh (RSS) के मेंबर हुआ करते थे वो अपनी पढाई के अंतिम साल में ही इस संस्था से जुड़ गए थे। कुछ दिन तक पर्रिकर RSS के chief instructor भी रहे। उसके बाद ये पोलिटिकल लाइन में आने के बारे में सोच रहे थे।
  • कुछ दिन बीत जाने के बाद पर्रिकर ने गोवा में आरएसएस से जुड़ गए वहां इन्होने लोकल की तरह से आरएसएस में ज्वाइन लिया और अपना बिज़नेस स्टार्ट कर दिया उस समय यह IIT भी कर चुके थे।
  • वर्ष 1994 में मनोहर परिकर ने पहली बार चुनाव लड़ा और जीत हासिल कर ली।
  • साल 2000 में मनोहर परिकर को गोवा का मुख़्यमंत्री बनाया गया, कार्यकाल पूरा नहीं कर सके और 2002 में फिर से एक बार  मुख़्यमंत्री पद के लिए चुने गए।
  • ऐसे ही 2014 तक मनोहर पर्रिकर गोवा में मुख़्यमंत्री बनते रहे, 2014 के आम चुनाव में बीजेपी की जबरदस्त जीत के बाद मोदी ने इनको केंद्र सरकार में मंत्री बनने के लिए दिल्ली बुलाया था और इनको रक्षा मंत्री का पद दिया गया था, बाद में मार्च 2017 में मनोहर पर्रिकर ने रक्षा मंत्री पद से इस्तीपा दे दिया और केंद्र की राजनीति से फिर गोवा चले गए जहाँ वो फिर से गोवा में मुख़्यमंत्री बने बाद में बीमारी के कारण इनकी मृत्यु हो गयी।

अवार्ड और पुरस्कार – (Manohar Parrikar Biography in Hindi)

  • वर्ष 2001 में IIT मुंबई से Distinguished Alumnus अवार्ड
  • वर्ष 2012 में CNN-IBN Indian of the Year in politics
  • वर्ष 2018 में Honorary Doctorate by National Institute of Technology Goa
  • वर्ष 2020 में पर्रिकर को पद्म भूषण अवार्ड से सम्मानित किया गया था

पर्रिकर का निजी जीवन और स्वभाव –

  • मनोहर पर्रिकर के बारे में कहें तो यह एक आम आदमी की तरह ही रहते थे।
  • बताया जाता है की यह अपने बेटे का विवाह भी आम लोगों की तरह एक सामुदायिक केंद्र में किया था जबकि उस समय ये प्रदेश में मुख़्यमंत्री भी थे।
  • इनका स्वाभाव एक दम निर्मल था, राह चलते लोगों से भी यह बातें कर लिया करते थे एक बाद की बाद है ये स्कूटर से ही ऑफिस चले गए थे।
  • अपने स्वभाव और ईमानदारी के कारण मनोहर पर्रिकर आज भी लोगों के दिलों में जिन्दा है।
  • जबतक इस दुनिया में राजनीति रहेगी मनोहर पर्रिकर का नाम अमर रहेगा।
  • भारतीय राजनीति के बड़े से बड़ा नेता भी मनोहर पर्रिकर की ईमानदारी और उनके अच्छे राजनितिक काम की प्रसंशा ही करता है, किसी भी नेता के जुबान से उनके लिए कभी भी कोई बुरे शब्द सुनने को नहीं मिलते थे।
  • यह अच्छे कूल स्वाभाव के नेता थे।

पर्रिकर से जुडी रोचक जानकारी – (Manohar Parrikar Biography in Hindi)

आप ने भी मनोहर पर्रिकर के बारे में सुना होगा हो सकता है आप उनके बारे में जानतें भी होगें, कितने अच्छे नेता थे।

  • गोवा में मुख़्यमंत्री होने पर भी इन्होने कोई बड़ा बांग्ला या घर नहीं लिया था।
  • यह बाइक से ही विधान सभा चले जाते थे।
  • एक बार तो यह किसी के स्कूटर से लिफ्ट लेकर बिधान सभा तक चले गए थे।
  • अपने जीवन काल में मनोहर पर्रिकर ने कई उपकार भरे काम भी किये थे जिनकी सराहना आज भी लोग करते है।

इनको भी पढ़ें –

कल्याण सिंह का जीवन परिचय (जीवनी)
APJ Abdul Kalam Biography in Hindi

Manohar Parrikar Biography in Hindi से जुडी जानकारी कैसी लगी?

पर्रिकर के बारे में इंग्लिश में जानकारी के लिए Wikipedia पढ़ें।

Leave a Reply