Fri. Jul 1st, 2022

Ashwini Vaishnaw Biography Hindi – इस लेख में आप भारत के मशहूर नेता अश्विनी वैष्णव जोधपुर वाले के जीवन परिचय से जुड़ी जानकारी प्राप्त करेंगे। यह रेलवे, संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री भी हैं। बताया जाता है की मोदीजी के खास होने की वजह से इनको रेल और आईटी मंत्री का मंत्रालय मिला है।

जीवन परिचय –

अश्विनी वैष्णव जी का जन्म 18 जुलाई 1971 को राजस्थान के जोधपुर में हुआ था। यह 1994 बैच के आईएएस कैडेट के अधिकारी भी रह चुके हैं। यह ओड़िशा के बालासोर से डीएम और कटक मे कलेक्टर भी रह चुके हैं, अश्विनी वैष्णव ओडिशा से राज्यसभा सांसद है। इनके पिताजी का नाम दाऊलाल वैष्णव है, और माता का नाम सरस्वती वैष्णव है। इनके पिता पाली जिले में जीवंत कला ग्राम में कार्य किया करते थे, बाद में सब लोग जोधपुर में ही रहने लगे। इन्होने 15 फ़रवरी 1995 को सुनीता वैष्णव से विवाह किया था।

Ashwini Vaishnaw Biography Hindi –

ashwini vaishnaw biography in hindi

वास्तविक नाम – अश्विनी वैष्णव
जन्म – 18 जुलाई 1971 को राजस्थान के जोधपुर में
प्रोफेशन – राजनेता
पद – केन्द्र में मन्त्री
पिता – दाऊलाल वैष्णव
माता – सरस्वती वैष्णव
पत्नी – सुनीता वैष्णव
वर्तमान पता – नई दिल्ली
शिक्षा – एमबीए
1994 बैच के आईएएस अधिकारी भी रहे हैं।
गोवा पोर्ट के डिप्टी चेयरमैन भी रहे
प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का डिप्टी सेक्रेटरी भी रहे हैं
बालासोर के डीएम भी रहे हैं।

अश्विनी वैष्णव की शिक्षा –

वैष्णव ने अपनी शुरुवाती शिक्षा दिल्ली पब्लिक स्कूल से पूरी की थी, उसके बाद इन्होने जोधपुर के एम. बी. एम इंजीनियरिंग कॉलेज से बी. टेक की पढ़ाई की बाद में यह आईआईटी कानपुर से एम. टेक किये और साथ ही इन्होने व्हार्टन स्कूल ऑफ़ द यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेन्सिलवेनिया से एमबीए भी किया फिर राजनीति में आये।

अश्विनी वैष्णव का राजनितिक सफर –

अश्विनी वैष्णव ने शिक्षा पूरी करने के बाद वर्ष 1994 में सिविल सेवा की परीक्षा के लिए तैयारी शुरू की थी, हलाकि इनको उसी साल सफलता मिली और यह वर्ष 1994 बैच के आईएएस अफसर बन गए। इनको पहली पोस्टिंग बालासोर के डीएम के रूप में मिली थी, नवीन पटनायक के कार्यकाल में अश्विनी वैष्णव को कटक का कलेक्टर भी बनाया गया था। वर्ष 2003 तक ओडिशा में रहने के बाद अश्विनी वैष्णव को प्रधान मंत्री के ऑफिस में बुलाया गया, यहाँ इनको तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का डिप्टी सेक्रेटरी बनाया गया था। बाद में वैष्णव क़रीब डेढ़ सालों तक गोवा पोर्ट के डिप्टी चेयरमैन रहे थे।

वर्ष 2008 के बाद इन्होने IAS ऑफिसर की नौकरी से इस्तीफा दे दिया था वजह थी कई प्राइवेट कंपनियों में वाइस प्रेसिडेंट से लेकर डायरेक्टर तक का पद इनको मिल रहा था। बाद में इन्होने गुजरात में ऑटो उपकरण की विनिर्माण इकाइयां भी स्थापित कर दी। 28 जून 2019 को अश्विनी ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी, उसके बाद इनको राज्यसभा का उम्मीदवार बना दिया गया, इन्होने बिना बहुमत के राज्यसभा का चुनाव जीता था।

रोचक जानकारी

  • अश्विनी वैष्णव को एक मन्त्री के रूप में काफी अच्छी सैलरी मिलती है।
  • आज के समय में यह काफी पॉपुलर नेता हैं।
  • देश के बड़े – बड़े राजनितिक नेताओं से इनका संपर्क रहता है।
  • अभी हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इनको देश का नया रेल और आईटी मंत्री बनाया है।

Ashwini Vaishnaw Biography Hindi से जुड़ी जानकारी आपको कैसी लगी ?

Leave a Reply